लौकिक साहित्य छोटे सवाल और जवाब और आदिकालीन लौकिक साहित्य

लौकिक साहित्य छोटे सवाल और जवाब और आदिकालीन लौकिक साहित्य Pdf file download.

विषय- लौकिक साहित्य


१. शतसाहस्त्रीसंहिता कहॉ जाता है-


☑- महाभारत को


२. रम्या रामायणी कथा ‘ उक्ति किसने कही –
☑ त्रिविक्रम भट्ट

३. रामायण मे कितने काण्ड व सर्ग व
श्लोक है-
☑ 7 काण्ड 645 सर्ग व 24000 श्लोक


४. वर्तमान मे रामायण मे कितने संस्करण है –
☑ चार – बम्बई – औदीच्य संस्करण
बंगाल – गौडीय संस्करण
काश्मीर – पश्चिमोत्तरीय संस्करण
दाक्षिणात्य संस्करण

५. महाभारत में कितने पर्व है –
☑ १८ पर्व – आदिपर्व , सभापर्व ,
वनपर्व , विराटपर्व , उद्योगपर्व ,
भीष्मपर्व , द्रोणपर्व , कर्णपर्व ,
शल्यपर्व , सौप्तिपर्व , स्त्रीपर्व ,
शान्तिपर्व , अनुशासनपर्व ,
आश्वमेधिकपर्व ,
आश्रमवासिकपर्व , मौसलपर्व , महाप्रास्थानिक , स्वर्गारोहणपर्व !!

६. अश्वघोष का माता का नाम क्या था –
☑ सुवर्णाक्षी

७. अश्वघोष की प्रमुख कृतियॉ कौन
कौनसी है –
☑ बुद्धचरितम् , सौन्दरनन्दम् ,
शारिपुत्रप्रकरणम् , राष्ट्रपालनम् !

८. कालीदास ने कुल कितनी रचनाएँ की –
☑ सात रचनाएँ – महाकाव्य दो ,
रुपक तीन ,
खण्डकाव्य दो !

९ . कालीदास की प्रथम कृति व पहला महाकाव्य कौनसा है –
☑ प्रथम कृति – ऋतुसंहार
पहला महाकाव्य – कुमारसंभवम्

१०. भारवि का मूल नाम क्या था –
☑ दामोदर

११. भारवि की एक मात्र कृति कौनसी थी –
☑ किरातार्जुनीयम्

१२. किरातार्जुनीयम् मे 15वें सर्ग में किस चित्रकाव्य का प्रयोग किया गया –
☑ न नोननुन्नो नुन्नोनो नाना नानानना ननु !
नुन्नोऽनुन्नो न नुन्नेनो नानेनो नुन्ननुन्ननुत्!!

१३. भारवि का कौनसा
छन्द व रस सर्वाधिक प्रसिद्ध था-
☑ वंशस्थ छन्द व वीर रस

१४. किस काव्य को लक्ष्म्यन्त कहॉ जाता है-
☑ किरातार्जुनीयम्

१५. माघ कहॉ के रहने वाले थे-
☑ राजस्थान के भीनमाल
(जालौर) (श्रीमाल) के


१६. घण्टा माघ की उपाधि किसको दी गई –
☑ महाकवि माघ को

१७. ब्रह्मस्फुटसिद्धान्त की रचना कब
व किसने की –
☑ ब्रह्मगुप्त ने 627 ईस्वी में

१८. पञ्च महाकाव्य कौनसे है – लेखकसहित
☑ किरातार्जुनीयम् – भारवि
शिशुपालवधम् – माघ
नैषधीयचरितम् – श्री हर्ष
कुमारसंभवम् – कालीदास
रघुवंशम् – कालीदास

१९. रामायण के काण्ड व सर्गो का वर्णन कीजिए –
☑ बालकाण्ड – 77
अध्योध्याकाण्ड – 119
अरण्यकाण्ड – 75
किष्किन्धाकाण्ड – 67
सुन्दरकाण्ड – 68
युद्धकाण्ड ( लंकाकाण्ड ) – 128
उत्तरकाण्ड – 111

२० . पञ्चतन्त्र में कुल कितनी कथाएँ है-
☑ 75

आदिकालीन लौकिक साहित्य pdf

Leave a Comment